Blogger Vs WordPress : कौनसा अच्छा है? Blogging के लिए

WORDPRESS और BLOGGER में अंतर (Blogger Vs WordPress)

आजकल के ज़माने में Internet का प्रयोग कर के हर कोई पैसे कमाना चाहता हैं और ऐसे में Blogging इसका सबसे बेहतर तरीका हैं. Blogging का मतलब हैं अपना Blog बनाना और फिर विभिन्न तरीको से उससे पैसे कमाना. Blogging के बारे में जो लोग अधिक नही जानते या इस क्षेत्र में अभी नए हैं, वो WordPress और Blogger में से किसे चुने इस बारे में सोच कर परेशान हो जाते हैं. वैसे तो Blogging के लिए कई Platform हैं जैसे WordPress, Blogger, tumblr, Medium, Weebly इत्यादि, जिनके जरिये हम अपने blog और Blog के Content को आसानी से manage कर सकते हैं पर  WordPress और blogger में से एक को चुनना बहुत मुश्किल हैं क्योंकि इन दोनों के अपने-अपने फायदे और नुकसान हैं.

Blog बनाने से पहले इस के बारे में अच्छे से जानकारी होना बहुत ज़रूरी हैं ताकि आप सही निर्णय ले सके. Blogging की शुरुआत में अक्सर लोग blogger से करते हैं, पर कुछ समय के बाद WordPress में अपने Blog को बदल लेते हैं पर इसका यह अर्थ नही हैं की blogger एक अच्छा Platform नही हैं. जानिए WordPress या blogger में क्या क्या अंतर हैं ताकि आप एक अच्छी शुरुआत कर सके.

OWNERSHIP – मालिकी

Blogger गूगल का Platform हैं इसका मतलब यह हैं की आपका सारा Data गूगल में स्टोर होता हैं. आप Gmail की ID बना कर आसानी से अपना इसमें Blog बना सकते हैं और आप एक Gmail ID की मदद से 100 Blogs तक बना सकते हैं, पर आपकी पहुँच इसके Server तक नही होती उस पर गूगल का अधिकार होता हैं इसका मतलब यह हैं की गूगल जब चाहे तब आप अकाउंट बंद कर सकता हैं या आपका Blog बंद कर सकता हैं और इस पर आप कोई दावा या आपत्ति नही कर सकते. जबकि WordPress में ऐसा नही हैं, इसे आप खुद host कर सकते हैं मतलब WordPress में आप जो भी Data होगा उस पर आपका ही अधिकार होगा. आप जब चाहे इस बंद कर सकते हैं और जब चाहे इसे शुरू कर सकते हैं. इसके लिए आपको एक WordPress सॉफ्टवेर मिलता हैं जिसे  Hosting में Install करते हैं. आप कब अपना Blog शुरू करना चाहते हैं और कब बंद यह सिर्फ आप निर्धारित करेंगे इसके अलावा आप थर्ड पार्टी के साथ भी जितना चाहे Data बाँट सकते हैं, इसका निर्णय भी आप ही को लेना हैं.

APPEARANCE – दिखावट

Blogger में हम कुछ ही Templates का प्रयोग कर सकते जो पहले से ही Blogger में हैं. Template एक तरह की बनावट या Design हैं जिसका हम Blog में प्रयोग कर के अपने Blog की दिखावट या लुक बदल सकते हैं.

Blogger में बहुत कम Templates हैं जिनका प्रयोग किया जा सकता हैं और जो हैं उनसे भी Blog की अच्छी लुक नही आती और आप इसमें  Layout भी नही  बना सकते हैं मतलब ये की आप अपने मुताबिक या मनमर्ज़ी का Design अपने Blog को नही दे सकते. WordPress में ऐसा नही हैं, इसमें आपको हज़ारों Free Templates या Themes मिल जायेंगे और वो भी उच्च गुणवत्ता वाले जिससे आपका Blog Professional वेबसाइट की तरह दिखेगा. आप खुद अपना Layout बना सकते हो इसका मतलब यह हैं की आप अपने मन मुताबिक इसे रूप दे सकते हैं. इसका निष्कर्ष निकाला जाये तो WordPress बनाबट में Blogger से बहुत बेहतर हैं.

यह भी पढ़े:-

Albert Einstein Biography in Hindi | अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी

TRP full form: TRP kya hai ? kaise calculate ki jati hai

ITI Ki Full Form Kya Hai ? ITI kya hai aur kyu karna chahiye

RTGS Full Form – RTGS Kya hai Aur Kaise Kaam Karta Hai

ATM Full Form In Hindi – ATM Kya Hai Aur Kaise Kaam Karta Hai ?

 

CONTROL – नियंत्रण

Blogger में गूगल आपको कुछ tools देता हैं जिसके जरिये आप अपने Blog को नियंत्रित कर सकते हैं पर इसकी कुछ सीमाएं हैं और आप को उसी में काम करना पड़ता हैं. अगर आप अपने Blog में कुछ अधिक डालना चाहते हैं तो यह सम्भव नही हैं. आपको दिए गए टूल्स से ही काम चलना पड़ता हैं जबकि WordPress  Open Source Platform हैं जिसमे आप अपनी मर्ज़ी के मुताबिक बिस्तार कर सकते हैं और अपनी मर्ज़ी से उसमे फीचर्स डाल सकते हैं, इसमें आप कोई भी Plugin Install कर अपने Blog को बेहतर बना सकते हैं.

SECURITY – सुरक्षा

Blogger गूगल का Platform हैं इसका मतलब हैं की यह इसमें बनाये हुए Blog को सबसे बेहतरीन सुरक्षा प्रदान करता हैं. अगर आपका Blog Blogger में हैं तो आपको सुरक्षा की चिंता करने की कोई ज़रूरत नही हैं. इसको हैक कर पाना बहुत मुश्किल हैं और चाहे जितना मर्ज़ी Traffic आये आपका Blog कभी धीमा नही होगा. ऐसा नही हैं की WordPress सुरक्षित नही हैं यह भी बहुत सुरक्षित हैं पर Blogger के जीतना नही, आप इसमें अपने Blog को होस्ट करवाते हैं इसका मतलब यह हैं की आप जिससे होस्ट करवा रहे हैं अगर वो सीमित साधनो (Limited Resources) वाला हैं तो आपको अपने Blog की सुरक्षा का खास ध्यान रखना पड़ेगा क्योंकि यह अधिक Traffic को नही सम्भाल सकता, इसके लिए आप Plugin का प्रयोग  सकते हैं. इसका मतलब यह हैं की Blogger सुरक्षा के मामले में WordPress से बेहतर हैं.

STORAGE SPACE

Blogger में गूगल आपको 1GB की Space देता हैं इसी में आपको सब स्टोर करना पड़ता हैं मगर आप अपने Google+ अकाउंट से इसे आसानी से जोड़ सकते हैं जिससे Space ज्यादा हो जाएगी वहीँ WordPress में Hosting लेते हैं जिसका खर्च $4.95/महीना होता हैं इसीमे आपको Domain भी मिल जाती हैं और आप जितना चाहे Space का भी प्रयोग कर सकते हैं.

PORTABILITY – सुवाह्यता

Blogger में आप अपना Data दूसरे Platform पर स्थानांतरित कर सकते हैं पर यह बहुत ही मुश्किल काम हैं और इसमें आप अपना SEO भी ख़राब कर सकते हैं जिससे आपकी Site का Traffic कम हो सकता हैं और आपको हानि हो सकती हैं यानि आपके द्धारा की गयी महीनो या सालो की मेहनत बर्बाद होने की पूरी सम्भावना हैं.

इसमें गूगल Portability की सुविधा तो देता हैं पर यह Data लंबे समय तक गूगल के Server पर ही पड़ा रहता हैं वहीँ WordPress में ऐसा नही हैं अगर आपको Blog का Domain Name बदलना हो या फिर Hosting Site बदलनी हो या Platform ही बदलना हो, WordPress में आप सब कुछ आसानी से कर सकते हैं और आपको किसी  मुश्किल का सामना भी नही करना पड़ता. इसका अर्थ यह हैं की Portability में भी WordPress blogger से कुछ मायनो में बेहतर हैं.

UPDATE – अद्यतन

Blogger कभी अपने Updates नही लाता, न ही कोई नए Features Add करता हैं पीछले कई सालों में गूगल ने इसमें कोई बदलाव नही किया हैं, वहीँ जैसा की पहले भी बताया गया हैं कि WordPress एक Open Source सॉफ्टवेर है इसीलिए इसका Update कई बार आ चूका हैं आप अपनी मर्ज़ी से हम इसमें Update कर सकते हैं और अपने Blog को बेहतर बना सकते हैं.

SEO – SEARCH ENGINE OPTIMIZATION

SEO आजकल के ज़माने में बहुत ही आवश्यक बन चूका हैं, जो की Blog/Website के Traffic को बढ़ाने और उसे Search Engine के अनुकूल बनाने में सहायता करता हैं. Blogger SEO के मामले में भी WordPress से पीछे ही हैं हालाँकि Blogger में SEO के मामले में पिछले कुछ सालो में बदलाव आये हैं पर वो काफी नही हैं जबकि WordPress में ऐसी कई Plugins हैं जिनसे आप अपने Blog की SEO को सुधार सकते हैं और बदलाब भी कर सकते हैं.

EXPENSES – ख़र्च

इसके अलावा Gmail में आप मुफ्त में अकाउंट बना सकते हैं और एक Gmail Id के द्धारा ही आप Blogger में अपना Blog बना सकते हैं. इसके लिए आपको कुछ खर्च नही करना पड़ता यही कारण हैं कि लोग शुरुआत इसी से करते हैं जबकि WordPress में आपको Domain Name और Hosting के लिए खर्च करना पड़ता हैं पर इसमें मौजूद Plugins आपकी हर मुश्किल को कम कर देता हैं और बेहतर Site उपलब्ध कराता हैं.

PLUGIN और PAGES

Blogger में कोई Plugin नही होते न ही उन्हें Install करने की सुविधा होती हैं. इस Platform में एक Blog के 10 पेज बनाये जा सकते हैं, Blogger का सही मायनो में फायदा यही हैं की इसका प्रयोग करना बहुत ही आसान हैं. वहीँ  WordPress में आप अपनी इच्छा के अनुसार कोई भी Plugin Install कर सकते हैं और अपने Blog को सुबिधाजनक बना सकते हैं इसमें आप अपनी इच्छा या ज़रूरत के अनुसार जितने चाहे उतने पेज बना सकते हैं.

अगर आप Blogging  में नए हैं और आप अभी सीख ही रहे हैं तो आपके लिए Blogger उपयुक्त हैं क्योंकि यह फ्री हैं और इसका प्रयोग बेहद आसान हैं, निसंदेह यही कारण हैं की जब भी कोई नया इस क्षेत्र में कदम रखता हैं तो Blogger से ही शुरुआत करता हैं, जब कुछ समय के बाद आपका आत्मविश्वास Blogging को लेकर बढ़ जाये तो आप आराम से Wordpres में Switch कर सकते हैं पर इसका मतलब यह बिलकुल नही हैं की Blogger अच्छा Platform नही हैं पर WordPress के अपने अलग फायदे हैं जो इसे बेहतर बनाते हैं. अंत में दोनों के फायदों और नुकसानों को देखते हुए आपको कि यह फैसला लेना हैं कि कौन सा Platform आपके लिए अच्छा हैं और किस का प्रयोग आप आसानी से कर सकते हैं|

Leave a Comment